Haryana

Haryana Panchayat Election: पहली बार दो चरण में होंगे पंचायत चुनाव, 10 नवंबर के बाद मतदान, घोषणा कल


पंचायत चुनाव
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हरियाणा के इतिहास में पहली बार पंचायत चुनाव दो चरणों में होंगे। पहले और दूसरे चरण में 11-11 जिलों में चुनाव कराए जाएंगे। राज्य चुनाव आयोग पहले चरण के चुनाव की घोषणा शुक्रवार को दोपहर एक बजे करेगा। राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह चुनावी कार्यक्रम जारी करेंगे। उत्तर, पूर्व में एक साथ और दक्षिण-पश्चिम हरियाणा के जिलों में आयोग एक साथ चुनाव करा सकता है।

दूसरे चरण के चुनाव की घोषणा पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद की जाएगी। पहले चरण का मतदान 10 नवंबर के बाद ही संभव है। आचार संहिता लागू होने के बाद एक चरण का चुनाव कराने में कम से कम 35 दिन का समय लगेगा। जिला परिषद, पंचायत समिति और सरपंच के चुनाव ईवीएम और पंच का चुनाव बैलेट पेपर से कराया जाएगा।

आयोग ने 70 हजार से अधिक ईवीएम पंचायती राज चुनाव संपन्न कराने के लिए मंगवाई हुई हैं। लगभग पांच हजार ईवीएम रिजर्व रहेंगी। चुनाव की घोषणा के बाद पांच दिन में अधिसूचना जारी होगी। पांच दिन का समय उम्मीदवारों को नामांकन के लिए मिलेगा। दो दिन छंटनी और नाम वापसी के लिए रहेंगे। आठ दिन का समय प्रचार के लिए रहेगा। इसके बाद पांच दिन के भीतर मतदान और मतगणना होगी। 

तीन नवंबर को आदमपुर उपचुनाव के लिए मतदान है और छह को मतगणना होगी। आठ नवंबर को यहां चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने की अधिसूचना जारी की जाएगी। आदमपुर हलके में शहरी क्षेत्र नहीं है, यहां सभी मतदान केंद्र ग्रामीण क्षेत्र में हैं। इसलिए इस हलके की पंचायतों, जिला परिषद, सरपंच और पंच का चुनाव दूसरे चरण में हो सकता है। प्रदेश में पौने दो साल देरी से पंचायती राज चुनाव हो रहे हैं।

1.20 करोड़ मतदाता तय करेंगे उम्मीदवारों का भविष्य

  • कुल जिले   22
  • कुल ब्लॉक 143
  • ग्राम पंचायतों में चुनाव 6220
  • पंच के पद 61993
  • पंचायत समिति  3081
  • जिला परिषद सीट 411
  • कुल सीट 71682
  • कुल मतदाता 12043073
  • मतदान केंद्र  14637

विस्तार

हरियाणा के इतिहास में पहली बार पंचायत चुनाव दो चरणों में होंगे। पहले और दूसरे चरण में 11-11 जिलों में चुनाव कराए जाएंगे। राज्य चुनाव आयोग पहले चरण के चुनाव की घोषणा शुक्रवार को दोपहर एक बजे करेगा। राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह चुनावी कार्यक्रम जारी करेंगे। उत्तर, पूर्व में एक साथ और दक्षिण-पश्चिम हरियाणा के जिलों में आयोग एक साथ चुनाव करा सकता है।

दूसरे चरण के चुनाव की घोषणा पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद की जाएगी। पहले चरण का मतदान 10 नवंबर के बाद ही संभव है। आचार संहिता लागू होने के बाद एक चरण का चुनाव कराने में कम से कम 35 दिन का समय लगेगा। जिला परिषद, पंचायत समिति और सरपंच के चुनाव ईवीएम और पंच का चुनाव बैलेट पेपर से कराया जाएगा।

आयोग ने 70 हजार से अधिक ईवीएम पंचायती राज चुनाव संपन्न कराने के लिए मंगवाई हुई हैं। लगभग पांच हजार ईवीएम रिजर्व रहेंगी। चुनाव की घोषणा के बाद पांच दिन में अधिसूचना जारी होगी। पांच दिन का समय उम्मीदवारों को नामांकन के लिए मिलेगा। दो दिन छंटनी और नाम वापसी के लिए रहेंगे। आठ दिन का समय प्रचार के लिए रहेगा। इसके बाद पांच दिन के भीतर मतदान और मतगणना होगी। 

तीन नवंबर को आदमपुर उपचुनाव के लिए मतदान है और छह को मतगणना होगी। आठ नवंबर को यहां चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने की अधिसूचना जारी की जाएगी। आदमपुर हलके में शहरी क्षेत्र नहीं है, यहां सभी मतदान केंद्र ग्रामीण क्षेत्र में हैं। इसलिए इस हलके की पंचायतों, जिला परिषद, सरपंच और पंच का चुनाव दूसरे चरण में हो सकता है। प्रदेश में पौने दो साल देरी से पंचायती राज चुनाव हो रहे हैं।

1.20 करोड़ मतदाता तय करेंगे उम्मीदवारों का भविष्य

  • कुल जिले   22
  • कुल ब्लॉक 143
  • ग्राम पंचायतों में चुनाव 6220
  • पंच के पद 61993
  • पंचायत समिति  3081
  • जिला परिषद सीट 411
  • कुल सीट 71682
  • कुल मतदाता 12043073
  • मतदान केंद्र  14637




Source link

Related Articles

Back to top button