Haryana

सोनीपत में प्लाट विवाद में युवक का मर्डर: माता-पिता को भी लगी चोटें; दूसरे पक्ष ने घर में घुसकर फायर करने का आरोप लगाया

सोनीपत4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मृतक धीरज की फाइल फोटो।

हरियाणा में सोनीपत के गांव बख्तावरपुर में जमीनी विवाद में युवक की तेजधार हथियार मारकर हत्या कर दी। हमले में युवक की मां भी गंभीर रूप से घायल हुई है। जिसका इलाज चल रहा है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर 11 लोगों को नामजद कर कुछ अन्य के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

वहीं, दूसरे पक्ष ने आरोप लगाया कि युवक उनके घर में हथियार लेकर घुस आया था। उसने उन्हें जाने से मारने की धमकी दी और फायर भी किया। बचाव में उन्होंने उस पर हमला किया।

बख्तावरपुर के रहने वाले नीरज ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह रविवार को गांव बड़ौली गए थे। उनका आजाद के परिवार के साथ प्लाट को लेकर विवाद चला आ रहा है। जब वह बड़ौली में था तो उसके पास उसकी पत्नी रितू का फोन आया। उसने बताया कि घर पर पंकज पुत्र आजाद व उसका भाई प्रवेश आया हुआ है। वह हाथ में पिस्तौल व तेजधार हथियार लिए हुए है।

सोनीपत में पुलिस अधिकारियों से बातचीत करते मृतक के परिजन।

सोनीपत में पुलिस अधिकारियों से बातचीत करते मृतक के परिजन।

भाई और माता-पिता पर किया हमला
उसके साथ उनकी मां सुषमा जेली, उनके परिवार का परीक्षित पुत्र सुरेंद्र पिस्तौल व गंडासी, सरोज पत्नी सुरेंद्र डंडा, सुरेंद्र फरसा, मुकेश पत्नी बलजीत जेली, बलजीत फरसा, नीटू व उसका भाई निशु फरसा, नीटू का भांजा करेवड़ी निवासी अक्षय गंडासी लिए हुए है। उनके साथ दो अन्य युवक भी है। हमलावरों ने उनके भाई धीरज, पिता ओमप्रकाश व मां कृष्णा देवी पर धारदार हथियार व डंडों से हमला किया है।

आरोपियों ने धीरज की गर्दन, चेहरे, सीने, पेट, हाथ, पैर व कमर पर कई वार किए हैं। उनकी मां कृष्णा के भी चेहरे, सिर, हाथ, पैर व अन्य जगह पर काफी चोट मारी है। उनके पापा के हाथ पर भी चोट लगी है। वह तीनों को लेकर पार्क निदान अस्पताल में पहुंचे। जहां पर धीरज व उनकी मां कृष्णा देवी को भर्ती कराया गया। जहां पर धीरज की मौत हो गई।

दूसरे पक्ष ने हथियार लेकर घुसने के आरोप लगाए
मामले में दूसरे पक्ष के सुरेंद्र ने पुलिस को बताया कि शनिवार आधी रात को धीरज उर्फ मोंटी उनके परिवार के बलवान के घर में घुस गया था। उसके परिवार के साथ जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। उसने बलवान की पत्नी मुकेश को पिस्तौल दिखाकर जान से मारने की धमकी दी। उसके बाद पंकज के घर में घुस कर पंकज को जान से मारने की धमकी दी और उसके बाद उनके मकान में घुस गया। धीरज ने उसकी पत्नी सरोज को गोली मारने की धमकी दी।

बचाव में धीरज पर किया हमला
उसकी पत्नी वीरेंद्र के मकान में घुस गई। आरोपी धीरज ने उनकी पत्नी को मारने के लिए गोलियां चलाई। उसकी पत्नी बच गई। उनके घर का दरवाजा भी तोड़ा। रविवार सुबह वह दोबारा उनके घर आया और उसकी पत्नी को धमकी दी। इसके बाद वह धीरज के घर में गए। जहां पर अपने बचाव में गंडासी व दांव से धीरज पर हमला किया। उन्होंने धीरज से पिस्तौल छीन ली। यह पिस्तौल पुलिस को सौंप दी है। पुलिस ने सुरेंद्र के बयान पर भी मुकदमा दर्ज कर लिया था।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button