Haryana

सोनीपत में निहंग को 10 साल कैद: कुंडली बॉर्डर पर किसान आंदोलन में युवक पर किया था तलवार से वार

सोनीपत3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

निहंग की तलवार से घायल हुए खेखर का फाइल फोटो। उसके हाथ में घाव हुआ था।

किसान आंदोलन के दौरान अप्रैल-2021 में हरियाणा के सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर एक युवक पर तलवार से हमला करने के दोषी निहंग मनप्रीत को सथानीय को स्थानीय कोर्ट ने 10 साल की कैद की सजा सुनाई है। साथ ही उस पर 15 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया गया है। मामले की सुनवाई सोनीपत के जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय पराशर की कोर्ट में चल रही थी। जुर्माना न देने पर 9 महीने और जेल में रहना पड़ेगा।

TDI मॉल जाते समय झगड़ा

बता दें कि किसान आंदोलन के दौरान किसानों ने कुंडली-दिल्ली बॉर्डर पर डेरा डाला था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने नेशनल हाइवे-44 को पूरी तरह से जाम कर दिया था। बॉर्डर के अगले मोर्चे पर निहंगों के शिविर लगे थे। दिल्ली से आने जाने के लिए लोग आंदोलन के मुख्य मंच के पीछे के रास्ते का इस्तेमाल करते थे। गांव कुंडली निवासी शेखर (21) ने 12 अप्रैल, 2021 को बाइक पर अपने दोस्त सन्नी के साथ कुंडली के टीडीआई मॉल जा रहा था। वे प्याऊ मनियारी के कट से एचएसआईआईडीसी की तरफ जाने लगे तो धरने वाले कैंप के पास से उनकी एक निहंग से कहासुनी हो गई।

पुलिस के साथ था विवाद

निहंगों का यहां पर पहले से ही पुलिस के साथ विवाद चल रहा था। शेखर और सन्नी यहां से गुजरने लगे तो एक निहंग मनप्रीत ने शेखर पर तलवार से वार कर दिया। तलवार उसके हाथ पर लगी थी। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ननहंग को गिरफ्तार कर लिया था। उसकी पहचान पंजाब के गांव सुल्तान विंड निवासी मनप्रीत के तौर पर हुई थी।

कुंडली पुलिस ने उसके खिलाफ हत्या के प्रयास की धारा में केस दर्ज किया था। सोनीपत के जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय पराशर ने दोनों पक्षों की बहस और सबूतों के आधार पर मनप्रीत को दोषी करार देते हुए उसे 10 साल की कैद और 15 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button