Haryana

फिर छाए संकट के बादल: रेवाड़ी में लगातार दूसरे दिन कोरोना के 2 पॉजिटव केस मिले; एक्टिव केस 5, 1377 लोगों के सैंपल लिए

रेवाड़ी19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रेवाड़ी स्वास्थ्य विभाग ने सैंपलिंग के साथ-साथ वैक्सीनेशन भी बढ़ा दिया है।

हरियाणा में एक बार फिर तेजी के साथ कोरोना का फैलाव हो रहा है। इसके साथ ही रेवाड़ी में भी संकट के बादल छाए हुए नजर आ रहे है। शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन रेवाड़ी में कोरोना के 2 पॉजिटिव केस मिले हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि दोनों में ही ओमिक्रॉन की पुष्टि नहीं हुई है। एक दिन पहले मिले 3 पॉजिटिव लोगों में भी ओमिक्रॉन की पुष्टि नहीं हुई थी।

स्वास्थ्य विभाग ने पॉजिटिव मिले लोगों की कॉन्ट्रेक्ट हिस्ट्री के अलावा शुक्रवार को जिलेभर में 1377 सैंपल लिए है। डीसी यशेन्द्र सिंह ने कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए जिले के लोगों से जल्द से जल्द कोरोना की वैक्सीन लेने की अपील की है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, शुक्रवार को पॉजिटिव मिले दो लोगों में एक रेवाड़ी शहर व 1 बावल का व्यक्ति शामिल है। दोनों में कोरोना के सामान्य लक्षण पाए गए हैं। दोनों पॉजिटिव लोगों को उनके घर में ही आइसोलेट किया गया है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग दोनों के स्वास्थ्य पर गहरी नजर रख रहा है। साथ ही दोनों लोगों के संपर्क में आए लोगों के भी सैंपल लिए गए है। जिससे कोरोना के बढ़ते फैलाव को रोका जा सके।

शुक्रवार को जिले में 1377 लोगों के सैंपल लिए गए। अभी 1253 सैंपल की रिपोर्ट पेंडिंग है। साथ ही 6 हजार से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। शनिवार को भी 20 से ज्यादा स्थानों पर वैक्सीन लगाई जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, रेवाड़ी जिले में अभी तक 20 हजार 275 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जिनमें 20012 लोग ठीक हो चुके है। साथ ही 258 लोगों की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। जिला में अभी 5 एक्टिव केस हैं।

कल से बगैर वैक्सीनेशन एंट्री बैन

प्रदेश सरकार ने वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लेने वाले लोगों की शनिवार से सार्वजिनक स्थानों के अलावा मॉल, बस स्टैंड, ट्रेन, बस, बैंक व अन्य जगह एंट्री बैन कर दी है। 1 जनवरी से वहीं लोग इन स्थानों पर एंट्री कर सकते है, जिन्हें दोनों डोज लगी होगी। यहीं कारण है कि शुक्रवार को वैक्सीनेशन कैंप में वैक्सीन लगवाने वाले लोगों की खासी भीड़ नजर आई।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button