Haryana

पानीपत सड़क हादसे में 3 दोस्तों की मौत: इसराना में तेज रफ्तार कार ने तीनों को कुचला, सड़क किनारे खड़े होकर कर रहे थे बात

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Accident In Panipat| Sub Division Israna; Three Friends Killed In Car Collision On National Highway In Village Kait

पानीपत22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा में पानीपत जिले के इसराना उपमंडल में नेशनल हाइवे पर बुधवार रात को एक बड़ा हादसा हो गया। जहां तेज रफ्तार कार चालक ने सड़क किनारे खड़े 3 दोस्तों को पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही तीनों युवक नीचे गिर गए।

हादसा इतना भयंकर था कि, तेज रफ्तार कार तीनों को रौंदते हुए आगे निकल गई और कुछ दूरी पर जाकर रुकी। हादसे के बाद राहगीर मौके पर इक्ट्‌ठे हो गए। जिसके बाद कार चालक मौके से फरार हो गया। हादसे की सूचना डायल 112 पर दी गई। सूचना मिलते ही एंबुलेंस और पुलिस मौके पर पहुंची।

मौके पर पहुंच कर देखा कि 2 युवकों की मौके पर मौत हो चुकी थी, जबकि तीसरा गंभीर रूप से घायल था। जिसे तुरंत खानपुर मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए ले जाया गया। उसकी रास्ते में मौत हो गई। पुलिस ने परिजनों के बयानों के आधार पर आरोपी कार चालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

शवगृह के बाहर खड़े मृतकों के परिजन।

शवगृह के बाहर खड़े मृतकों के परिजन।

फोन पर संपर्क होने के बाद मिले थे तीनों दोस्त

जानकारी देते हुए दिलखुश ने बताया कि वह गोहाना के गांव दुराना का रहने वाला है। उसका भतीजा मोनू (35) बुधवार को इसराना के गांव कैत गया था। जहां दोस्तों से फोन पर संपर्क होने के बाद देर शाम नेशनल हाइवे पर वह गांव बनवासा निवासी संदीप (35) और गांव पुठर निवासी धर्मबीर(36) से मिलने के लिए खड़ा हो गया। संदीप और धर्मबीर दोनों एक ही बाइक पर सवार होकर वहां पहुंचे थे।

तीनों वहां खड़े हुए कुछ ही देर हुई थी कि इसी दौरान गोहाना की ओर से एक तेज रफ्तार बलेनो कार चालक आया, जिसने तीनों को टक्कर मार दी। हादसे के बाद आरोपी कार चालक मौके पर कार छोड़कर फरार हो गया। हादसे में संदीप और धर्मबीर की मौके पर मौत हो गई थी। जबकि मोनू ने खानपुर मेडिकल कॉलेज पहुंचते ही दम तोड़ दिया था।

इस बाइक पर सवार होकर गए थे दो दोस्त।

इस बाइक पर सवार होकर गए थे दो दोस्त।

तीनों मृतक का बैकग्राउंड

– मृतक मोनू पेशे से दुकान संचालक था। उसकी गांव में ही करियाणा की दुकान थी। वह 3 बच्चों का पिता था। जिसमें बड़ा बेटा आशीष (9), बेटी मुस्कान (7) व छोटी बेटी गुंजन (5) है। वह चार भाईयों में तीसरे नंबर पर था। सबसे बड़ा भाई संदीप, सोनू, मोनू और सबसे छोटा भाई सकील है।

– मृतक संदीप पेशे से कैंटर चालक था। वह सोनीपत के गांव बनवासा का रहने वाला था। वह 2 बेटियों का पिता था।

– मृतक धर्मबीर पानीपत के गांव पुठर का रहने वाला था।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button