Haryana

गृह मंत्री से मुलाकात करने पहुंचे EHC सिंघम: जनता दरबार में नहीं मिली एंट्री; पुलिस पर लगा चुके गंभीर आरोप

अंबाला34 मिनट पहले

हरियाणा के पानीपत में पुलिसकर्मियों पर भ्रष्टाचार और अपराधियों से मिलीभगत के आरोप लगाने के बाद सुर्खियों में आए EHC आशीष कुमार (सिंघम) शनिवार को गृह मंत्री के जनता दरबार में पहुंचे। उनके साथ विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े 150 से अधिक लोग भी साथ आए।

दोपहर 1 बजे के बाद पहुंचे के कारण पुलिस कर्मचारी ने उन्हें PWD रेस्ट हाउस के मेन गेट पर ही रोक दिया। EHC आशीष सिंघम ने कहा कि वे गृह मंत्री से मुलाकात करके ही वापस पानीपत लौटेंगे। उन्हें गृह मंत्री अनिल विज से काफी उम्मीद हैं।

EHC आशीष कुमार के साथ पहुंचे विभिन्न संगठनों से जुड़े समाजसेवी।

नहीं लगाई जा रही कहीं ड्यूटी

उड़ान जन कल्याण सोसाइटी की प्रधान गीता, महिला शक्ति संगठन की अध्यक्ष सुनीता राजपाल, अमित स्वामी व रविंद्र भारतीय ने कहा कि EHC आशीष कुमार पानीपत को जाम से मुक्त कराने के साथ-साथ भ्रष्टाचार मुक्त कराने में अहम कदम उठा रहे है। खुद आशीष कुमार ने भ्रष्टाचार के कई राज उजागर कर चुके हैं,लेकिन पुलिस अधीक्षक ने उसे पुलिस लाइन में तैनात कर दिया। पिछले लंबे समय से उसकी ड्यूटी नहीं लगाई जा रही।

नौकरी से दिया था इस्तीफा

पानीपत पुलिस पर गंभीर आरोप लगा EHC आशीष कुमार अपनी नौकरी से इस्तीफा दे चुके हैं। आशीष कुमार ने जुआ, नशा और अवैध शराब जैसे संगीन मामलों में पुलिस की 100 प्रतिशत संलिप्ता बताते हुए त्यागपत्र दिया था, लेकिन मामला गृह मंत्री के संज्ञान में आने के बाद उनका इस्तीफा मंजूर नहीं हुआ है।

EHC आशीष कुमार सिंघम

EHC आशीष कुमार सिंघम

त्यागपत्र में लिखा था मेरा जमीर जिंदा है

SP को दिए त्याग पत्र में EHC आशीष कुमार ने बताया था कि मैं 19, 20 और 21 सितंबर 2022 को अतिक्रमण व यातायात ड्यूटी के दौरान तहसील कैंप थाना एरिया में तैनात था। तैनाती के दौरान मैंने जुआ, नशा व अवैध शराब पकड़ी थी। यह अवैध काम पुलिस के संरक्षण में चल रहे हैं। जिससे आहत होकर पुलिस विभाग की नौकरी छोड़ कर संन्यास लेने के लिए बाध्य हो गया हूं। मेरा जमीर ऐसे कार्यों को होते हुए नहीं देख सकता है। अगर पुलिस इन कार्यों को रोकने में सक्षम नहीं है तो मैं नौकरी छोड़ना चाहता हूं। मेरा इस्तीफा मंजूर किया जाए।

2018 में भी मांगी थी आशीष ने रिटायरमेंट

इससे पहले भी EHC आशीष कुमार वर्ष 2018 में स्वेच्छा से रिटायरमेंट लेने के बारे में अर्जी दे चुका है। उस समय भी उच्च अधिकारियों द्वारा काउंसिलिंग कराकर समझाकर विभाग में बने रहने दिया था।

EHC के साथ पानीपत से पहुंचे लोग।

EHC के साथ पानीपत से पहुंचे लोग।

खबरें और भी हैं…

Source link

Related Articles

Back to top button